दाद की होम्योपैथिक दवा | खाज, खुजली,एक्जिमा – चर्म रोग की होम्योपैथिक दवा

यहां लक्षणों के अनुसार विभिन्न प्रकार के चर्म रोग की होम्योपैथिक दवा ( खाज, एक्जिमा, खुजली, दाद की होम्योपैथिक दवा ) का विवरण दिया गया है। हमारी पांच इंद्रियों में, त्वचा हमारे शरीर की सबसे बड़ी इंद्रियों है। हमारा पूरा शरीर त्वचा से ढका हुआ है। त्वचा हमें विभिन्न हानिकारक रसायनों, हानिकारक तरंगों, कीटाणुओं से बचाती है। त्वचा हमारे शरीर की आंतरिक गर्मी को संतुलित करती है। यह हमारे शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा है।हमारे शरीर में अलग-अलग समय पर विभिन्न चर्म रोग जैसे की दाद, एक्जिमा, खाज, खुजली आदि अलग-अलग कारणों से होते हैं। सर्वेक्षण के अनुसार, लगभग 20% से 30% आबादी को किसी न किसी रूप में त्वचा रोग है। एकमात्र होम्योपैथिक दवाएं किसी भी प्रकार के चर्म रोग को ठीक कर सकती हैं।

चर्म रोग की होम्योपैथिक दवा | खाज, एक्जिमा, खुजली, दाद की होम्योपैथिक दवा

दाद की होम्योपैथिक दवा | चर्म रोग की होम्योपैथिक दवा

खुजली की होम्योपैथिक दवा

  • Antim Crud 30 – त्वचा पर छाले की तरह होता है। चेहरे, पीठ, हाथों, छाती पर घाव।
  • Anagalis arv 30 – हथेली पर खुजली, हाथों और उंगलियों में खुजली ।
  • Aloes Soc 30 – खुजली हर साल सर्दियों में देखा जाता है।
  • Alumina 200 – सर्दी में दाद , कब्ज के साथ त्वचा की समस्याएं, सूखी त्वचा, बहुत खुजली, जब तक खून न निकल रहा है तब तक खुजली होता है।
  • Croton tig 200 – खुजली से त्वचा पर छाले की तरह होता है। खुजली पानी और ठंड लगने से बढ़ जाती है।
  • Arsenic alb 30 – माथे और सिर पर ज्यादा खुजली ,बदबूदार खुजली।
  • Hepar sulph 200 – जोड़ों और त्वचा की परतों में रसदार छाले और इसमें बहुत खराब गंध और खुजली होती है।
  • Mezereum 200 – दाद, खुजली और जलन, एक्जिमा में गाढ़ा पीला-सफेद पपड़ी , इसके अंदर गाढ़ा मवाद। किसी भी त्वचा रोग में बहुत खुजली, रात में और बिस्तर पर सोने से खुजली बढ़ जाता है , खुजलाने के बाद जलन बढ़ जाती है।
  • Psorinum 200 – त्वचा देखने में बहुत बदसूरत होती है,त्वचा के गंध इतनी खराब होती है कि अगर आप नहाते हैं तो भी उसमें से बदबू नहीं जाता है। थोड़ा गर्मी से खुजली होती है, खून निकलता है और विभिन्न प्रकार के छाले होते हैं।
  • Sulphur 30 ( सल्फर ) – चर्म रोगों में अत्यधिक खुजली, खुजली के दौरान बड़ी आराम मिलता है फिर बाद में गंभीर जलन होता है। खुजली रात में , गर्मी और नहाने से बढ़ जाता है।

दाद की होम्योपैथिक दवा

  • Acid Chryso 200 – खुजली, दाद, घावों, छालरोग और निम्नांग में एक्जिमा।
  • Tellurium 30 ( टेल्यूरियम 30 ) – मुंह में दाद, निम्नांग में दाद , शरीर पर किसी भी तरह के दाद।

एक्जिमा की होम्योपैथिक दवा

  • Graphites 200 – हथेली के विपरीत पृष्ठ पर एक्जिमा (eczema), त्वचा मोटी, फटी, उंगलियों की त्वचा मोटी होती है। चेहरे पर, कान के पीछे, पलकों पर, जननांग फुंसी या मसूड़ों के घाव। वहां से शहद जैसा चिपचिपा रस निकलता है।छाले में मछली तराजू जैसे पदार्थ से ढक जाता है।
  • Petroleum 200 ( पेट्रोलियम ) – उपरोक्त Graphites के समान लक्षण लेकिन खुजली सर्दियों में बढ़ते हैं और गर्मियों में घटते हैं।
  • Nat mur 200 – दाढ़ी में एक्जिमा (eczema), कोहनी के नीचे, घुटनों के नीचे और अंडकोष में एक्जिमा बहुत उपयोगी है, पानी से खुजली बढ़ जाता है।

अधिक पढ़ें : मर्दाना कमजोरी की होम्योपैथिक दवा

चर्म रोग की होम्योपैथिक दवा

फंगल इन्फेक्शन ( fungal infection ) जैसे दाद, जॉक खुजली, खिलाड़ियों के पैरों पर सफेद परतदार त्वचा, कान की खुजली के साथ कान का दर्द, महिलाओं के योनि में फंगल संक्रमण और अन्य कवक त्वचा संक्रमण के लिए जर्मनी के Dr.Reckeweg कंपनी के R82 बहुत असरदार है।

दाद की होम्योपैथिक दवा

Buy R82 Now

अधिक पढ़ें : पेट में गैस,हाइपर एसिडिटी का होम्योपैथिक इलाज

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *