मासिक धर्म का होम्योपैथिक इलाज

10 से 15 साल की आयु की लड़की के अण्डाशय हर महीने एक विकसित डिम्ब उत्पन्न करना शुरू कर देते हैं। वह अण्डा अण्डवाहिका नली (फैलोपियन ट्यूव) के द्वारा नीचे जाता है जो कि अंडाशय को गर्भाशय से जोड़ती है। जब अण्डा गर्भाशय में पहुंचता है, उसका अस्तर रक्त और तरल पदार्थ से गाढ़ा हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है कि यदि अण्डा उर्वरित हो जाए, तो वह बढ़ सके और शिशु के जन्म के लिए उसके स्तर में विकसित हो सके। यदि उस डिम्ब का पुरूष के शुक्राणु से सम्मिलन न हो तो वह स्राव बन जाता है जो कि योनि से निष्कासित हो जाता है। इसी स्राव को मासिक धर्म या माहवारी ( Menses ) कहते हैं। इस दौरान महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जैसे की – मासिक धर्म शुरू होने के पहले और दौरान पेट के निचले हिस्से में असहनीय दर्द, पूरे शरीर में दर्द, शारीरिक कमजोरी। मासिक धर्म का होम्योपैथिक इलाज यहां विस्तार से चर्चा की गई है।

अनियमित मासिक धर्म का होम्योपैथिक इलाज

Abroma Augusta Q – माहवारी अनियमित है, समय से बहत पहले ही हो जाता है, स्राव कम दिन या फिर बहत दिन तक चलता है, शुरू होने के २/३ दिन पहले पेट के निचले हिस्से में बहत दर्द होता है, खून का रंग काला और घना होता है।

Pulsatilla Q – मासिक धर्म सही समय पर नहीं होता बल्कि बहत देर में होता है, मात्रा में भी बहत ही कम होता है (दिन में ज्यादा और रात में कम), कमर में भयानक दर्द और सिरदर्द।

Janosia Ashoka Q – माहवारी अक्सर अनियमित होता है और बहत देर में होता है, मासिक धर्म शुरू होने से पहले ओवरी (Ovary) में दर्द होता है, स्राव ज्यादा या कम होता है।

Calcarea Phos 200 – लड़कियों के बहत जल्दी यहां तक कि १५ दिन अंतर मासिक धर्म ( menses ) होता है और बुजुर्गो के बहत देर में होता है।

मासिक धर्म के समय दर्द की homeopathic दवा

मासिक धर्म

Colocynth 30 – मासिक धर्म ( menses ) के समय पेट के निचले हिस्से में भयानक दर्द।

Pulsatilla Q – मासिक धर्म रुक रुक के होता है तो दर्द भी ऐसे रुक रुक के होता है, रोगी देखने में बहुत मोटा होता है रोगी खुले हवा में रहना चाहता है पर उनमें ठंडा महसूस होता है, मासिक धर्म का रंग काला जैसा होता है और बहत घना होता है। और कभी कभी पानी जैसा बेरंग होता है ।

Magnesium Phos 30 – मासिक धर्म 6 से 9 दिन पहले शुरू होते हैं, दर्द भी पहले शुरू होता है, गहरा काला रंग का रेशेदार प्रबाह, बड़ी कमजोरी, रुक-रुक कर दर्द होता है । गर्माहट, दबाव, रगड़ने से दर्द में आराम मिलता है।

Secale Cor 200 – मासिक धर्म बहुत अधिक और बहुत लंबी अवधि, बदबूदार, कभी-कभी दर्दनाक ऐंठन के साथ, अगले माहवारी तक पानी से भरे खून का लगातार बहना ।

और पढो : दांत दर्द की होम्योपैथिक दवा